Saturday , October 20 2018
Loading...

गैंगरेप और मर्डर की स्थिति रिपोर्ट देगी जम्मू व कश्मीर गवर्नमेंट

गैंगरेप और मर्डर मामले में गवाहों की प्रताड़ना के आरोप को लेकर सुप्रीम न्यायालय ने जम्मू व कश्मीर गवर्नमेंट को सुप्रीम न्यायालय में बृहस्पतिवार को स्टेटस रिपोर्ट पेश करने को बोला है. साथ ही बोला कि जब भी पुलिस गवाहों को पूछताछ के लिए बुलाए, तो एडवोकेट साथ में रह सकते हैं. याचिका सुशील शर्मा  दो अन्य की ओर से दायर की गई है. ये तीनों गवाह आरोपी विशाल जगोत्रा के दोस्त हैं.

Image result for कठुआ गैंगरेप मामला

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ के समक्ष गवाहों की ओर से पेश एडवोकेट ने जम्मू व कश्मीर पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाया. उन्होंने बोला कि गवाह होने के बावजूद उनके साथ आरोपियों की तरह बर्ताव किया जा रहा है. उन्होंने बोला कि जब पुलिस गवाहों को पूछताछ के बुलाए तो उसकी वीडियो रिकॉर्डिंग कराई जाए.
उधर जम्मू व कश्मीर गवर्नमेंट की ओर से पेश एडवोकेट शोएब आलम ने पीठ से बोला कि उनके पास कुछ विश्वसनीय तथ्य हैं, लिहाजा वह सीलबंद लिफाफे में इसे पेश करना चाहते हैं. उन्होंने बोलाकि वह इस मामले में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करना चाहते हैं. जिसके बाद पीठ ने गवर्नमेंट को बृहस्पतिवार तक स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने का आदेश दिया है.
पीठ ने पुलिस के समक्ष पूछताछ की वीडियो रिकॉर्डिंग कराने की मांग ठुकरा दी. याचिकाकर्ताओं का आरोप है कि 19 मार्च से 31 मार्च के बीच जम्मू व कश्मीर पुलिस ने उन्हें प्रताड़ित किया.

Loading...
Loading...