Wednesday , October 17 2018
Loading...

राष्ट्रीय सैन्य एक्सरसाइज में पहली बार धुर विरोधी हिंदुस्तान व पाक लेंगे भाग 

पाकिस्तान अगले वित्त साल तक अपना एक महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष प्रोग्राम को शुरु करने की तैयारी में है मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसका एक मकसद हिंदुस्तानपर नजर रखना  दूसरा नागरिक एवं रक्षा कार्यों के लिए विदेशी उपग्रहों पर निर्भरता को कम करना है   डॉन खबर लेटर की समाचार के मुताबिक पाक की राष्ट्रीय अंतरिक्ष एजेंसी सुपारको ( स्पेस एंड अपर एटमॉसफियर रिसर्च ऑर्गनाइजेशन ) के लिए वित्त साल 2018-19 में 4.70 अरब रुपये का प्रावधान किया गया है इसमें तीन नयी परियोजनाओं के लिए 2.55 अरब रुपये का बजट भी शामिल है

Image result for राष्ट्रीय सैन्य एक्सरसाइज में पहली बार धुर विरोधी हिंदुस्तान व पाक लेंगे भाग 

नागरिक एवं सैन्य गतिविधियों के लिए फ्रांस  अमेरिका के उपग्रहों पर अपनी निर्भरता कम करने  उपग्रह विकसित की क्षमता में आत्मनिर्भर बनने के लिए पाक के कई परियोजनाओं पर आगे बढ़ने की आसार है   इस आवंटन में 1.35 अरब रुपये के पाक मल्टी – मिशन उपग्रह का वित्तपोषण भी शामिल है इसके अतिरिक्त पाक कराची , लाहौर इस्लामाबाद में अंतरिक्ष केंद्र की स्थापना करने की भी योजना बना रहा है इस पर एक अरब रुपये का खर्च आने की आसार है

Loading...

एक साथ सैन्य एक्सरसाइज करंगे हिंदुस्तान पाकिस्तान
रूस में सितंबर में होने वाले बहु – राष्ट्रीय सैन्य एक्सरसाइज में पहली बार धुर विरोधी हिंदुस्तान  पाक भाग लेंगे आतंकी गतिविधियों पर लगाम लगाने के मकसद से आयोजित इस सैन्य एक्सरसाइज में चाइना  कई अन्य राष्ट्र भी शामिल होंगे

अधिकारियों ने बताया कि यह सैन्य एक्सरसाइज शंघाई योगदान संगठन ( एससीओ ) की रूपरेखा के तहत किया जाएगा सुरक्षा समूह की इस संस्था पर चाइना का प्रभुत्व है जिसे अब नाटो की बराबरी कर सकने वाली संस्था के तौर पर देखा जा रहा है उन्होंने बताया कि यह एक्सरसाइज रूस के उराल पर्वत एरिया पर आयोजित किया जाएगा  एससीओ के लगभग सभी सदस्य इसका भाग बनेंगे

पाकिस्तानी नौसेना का दावा – इंडियन मछुआरों को सहायता दी
पाक की नौसेना ने रविवार को दावा किया कि इसने हिंदुस्तान के उन 12 मछुआरों को ‘चिकित्सा एवं मानवीय सहायता’ उपलब्ध करवाई है जिनकी नौका इंजन में खराबी आने के बाद समुद्र में लापता हो गई थी  पाकिस्तानी नौसेना ने बयान जारी कर दावा किया कि लगभग आठ दिन पहले इसके जहाज पीएनएस आलमगीर ने ‘ एसटी मार्स ’ नौका पर यात्रा कर रहे इंडियन मछुआरों को सहायता मुहैया करवाई थी 

नौसेना ने बयान में बोला है , ‘‘ नौका के इंजन में खराबी आने के बाद आठ दिन पहले उनका खाना  पानी खत्म होने वाला था  बार बार अपील के बावजूद कोई इंडियन नौका उनकी मदद के लिए नहीं पहुंची  इसमें बोला गया है कि एसटी मार्स पर 12 मछुआरे थे तथा मानवीय आधार पर उन लोगों को मानवीय  अन्य सहायता मुहैया कराई गई थी  पाकिस्तानी नौसेना ने बोला कि खाना  चिकित्सा सुविधा प्रदान उपलब्ध कराने के अतिरिक्त नौका को अच्छा करने में भी सहायता दी गयी 

Loading...