Sunday , February 25 2018

योगी कैबिनेट के फैसले को शिक्षा मित्र देंगे चुनौती,कहा ये अन्याय कर रहे योगी

Click here -- ताज़ा समाचार के लिए सबसे पहले आपके अपने पेज Sansani News को like करें | fecebook पर @sansaninewsonline से पेज खोजे

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट द्वारा शिक्षा मित्रों के संबंध में लिए गए निर्णय से शिक्षामित्रों बेहद नाराजगी है. सरकार ने शिक्षकों की भर्ती लिखित परीक्षा से करने का फैसला किया जिसका विरोध हो रहा है.

loading...
Loading...

बता दें कि राज्य सरकार के इस फैसले को शिक्षा मित्रों ने अपने प्रति अन्याय बताया है.शिक्षामित्रों ने इस लिखित परीक्षा वाले निर्णय को न्यायालय में चुनौती देने का फैसला किया है. सरकार के इस निर्णय के खिलाफ आंदोलन की रणनीति तैयार की जा रही है, जिसमें माध्यमिक से लेकर बेसिक स्कूलों तक के शिक्षक शामिल होंगे.

उल्लेखनीय है कि इस संबंध में आदर्श शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र शाही ने कहा कि शिक्षकों की भर्ती, लिखित परीक्षा से करने का फैसला कर भाजपा सरकार ने खुलासा कर दिया कि वह चाहती ही नहीं कि शिक्षामित्र अध्यापक बनें.

वहीं बीटीसी शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अनिल यादव ने इस निर्णय को शिक्षा मित्रों को मौत के मुंह में धकेलना बताया.वैसे भी शिक्षामित्र पहले ही कोर्ट के फैसले के कारण निराश थे और अब सरकार ने उन्हें दोहरे तरीके से प्रभावित किया है. न सिर्फ टीईटी बल्कि अब शिक्षा मित्रों को लिखित परीक्षा का भी दबाव सहना पड़ेगा.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...