Wednesday , May 22 2019
Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजीव गांधी को बताया ये…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राजीव गांधी को नंबर वन भ्रष्टाचारी बताने वाले मुद्दे में प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के विरूद्ध दिल्ली पुलिस को तहरीर दी गई है. यह तहरीर उच्चतम न्यायालय के अधिवक्ता अजय अग्रवाल ने सोमवार को चाणक्यपुरी थाने में दी है. मंगलवार को वाराणसी में उन्होंने पत्रकारों के सामने तहरीर की कॉपी पेश की.

अजय अग्रवाल ने बोला कि उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में चुनावी रैली में प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए बोला था कि उनके पिता राजीव गांधी का ज़िंदगी काल भ्रष्टाचारी नंबर एक के रूप में खत्म हुआ. उन्होंने प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा इस्तेमाल किए गए वाक्यों को तहरीर में लिखा है- आपके पिताजी को उनके राजदरबारियों ने मिस्टर क्लीन बता दिया था, गाजे-बाजे के साथ मिस्टर क्लीन चलाया था, लेकिन देखते ही देखते भ्रष्टाचारी नंबर एक रूप में उनका ज़िंदगी काल खत्म हो गया.

अजय अग्रवाल ने तत्काल प्राथमिकी पंजीकृत करने की मांग की है. उन्होंने बोला कि वह बोफोर्स मुद्दे के याचिकाकर्ता रहे हैं  किसी कोर्ट ने राजीव गांधी को बोफोर्स घोटाले का दोषी नहीं पाया  उन्हें क्लीन चिट दी थी.

तहरीर में बोला है कि इससे पहले नौ अप्रैल  फिर 15 अप्रैल को प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजीव गांधी पर अभद्र टिप्पणी की थी, इसीलिए पहले 10 अप्रैल  फिर 6 मई को उन्हें लेटरलिखकर आगाह किया था कि दिवंगत आत्मा के विरूद्ध निकृष्ट भाषा का इस्तेमाल न करें.

गंगा स्वच्छता की खुल रही पोल

अजय अग्रवाल ने काशी के गंगा स्वच्छता अभियान  नगवां नाले से गंगा की बदहाली पर बोला कि पांच सालों में भी गंगा की सूरत नहीं बदली. दावे  वादे बड़े-बड़े किए गए, लेकिन जमीन पर काम नहीं हुआ. यदि होता तो गंगा की हालत में सुधार होता.
एसटीपी बनाकर पीएम ने फोटो तो खिंचवाली, लेकिन उन्हें पहले यह देखना चाहिए था कि वाराणसी में गंगा में गिरने वाली गंदगी की मात्रा कितनी है  एसटीपी की क्षमता कितनी है.

अजय अग्रवाल ने बोला कि बीजेपी केवल मीडिया में बयानबाजी करने में मस्त है, लेकिन उसे जनता से कोई सरोकार नहीं है. काशी गंगा तट पर बसी है  जल का स्रोत केवल गंगा है.आज दूषित गंगा का जल पीकर लोग बीमार पड़ रहे हैं.