Wednesday , May 22 2019
Breaking News

TikTok ऐप से हटा बैन , इसलिए नहीं होगा ऐप डाउनलोड

भारत सहित संसार के कई राष्ट्रों में पॉपुलर शॉर्ट वीडियो ऐप TikTok पर बैन हटने के बाद भी यह अभी भी ऐपस्टोर पर उपस्थित नहीं है बुधवार को इस ऐप पर से बैन हटाया गया था लेकिन इसके बावजूद भी लोग गूगल प्ले स्टोर  एप्पल ऐप स्टोर से इसे डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं

इलेक्ट्रॉनिक्स  सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) से जुड़े सूत्रों ने बताया कि क्रोट का आदेश प्राप्त होने के बाद कंपनी के साथ आधिकारिक वार्ता की जाएगी  तब इस पर से बैन हटाया जा सकता है

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि उच्चतम न्यायालय की ओर से मद्रास उच्च न्यायालय के टिकटॉक पर बैन लगाने को लेकर कोई आदेश न देने पर इलेक्ट्रॉनिक्स  सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) ने गूगल  एप्पल को ऐपस्टोर से इस ऐप को हटाने के लिए बोला था

वकील मुथुकुमार की ओर से फाइल किए गए केस पर सुनवाई करते हुए मदुरई बेंच ने बुधवार को टिकटॉक से बैन हटाने का आदेश दिया इसके साथ न्यायालय ने यह भी शर्त रखी है कि इस प्लेटफॉर्म पर ऐसे कॉन्टेंट अपलोड नहीं होने चाहिए जो पोर्नोग्राफी से जुड़े हों  ऐसी स्थिति में 36 घंटे के अंदर ऐप को एक्शन लेना होगा अगर ऐप ऐसा नहीं किया तो कंटेंप्ट ऑफ न्यायालय की प्रोसीडिंग प्रारम्भ की जाएगी

टिकटॉक के स्वामित्व वाली कंपनी ByteDance का दावा है कि हिंदुस्तान में टिकटॉक के 120 मिलियन मंथली एक्टिव उपभोक्ता हैं पिछले एक वर्ष में यह ऐप पॉपुलैरिटी की लिस्ट में टॉप पर पहुंच गया है कंपनी ने पहले इसे म्यूजिकली (musically) के नाम से लॉन्च किया था, लेकिन बाद में इसका नाम बदलकर टिकटॉक (TikTok) रख दिया गया एक रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार वर्तमान समय में इस ऐप को दुनियाभर में तकरीबन 100 करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इस कंपनी के अधिकार चीनी कंपनी बाइटडांस (Bytedance) के पास है, जो संसार की सबसे ज्यादा वैल्यू वाली स्टार्टअप कंपनियों में से एक है

ऐपस्टोर पर अभी भी नहीं उपस्थित है टिकटॉक

हमने गूगल प्ले स्टोर  एप्पल ऐप स्टोर पर जाकर TikTok ऐप को सर्च किया लेकिन यह ऐप नहीं मिला इससे साफ हो गया है कि यह ऐप अभी डाउनलोड के लिए उपलब्ध नहीं हैहालांकि इसको लेकर गूगल  एप्पल की ओर से भी कोई जानकारी नहीं दी गई है ऐसा माना जा रहा है कि मंत्रालय की ओर से आदेश मिलने के बाद इस ऐप को दोबारा डाउनलोड के लिए उपलब्ध कराया जाएगा