Tuesday , April 23 2019

आंगनबाड़ी केंद्र के बाहर छह साल की बच्ची की ट्रक से कुचल कर मौत

आंगनबाड़ी केंद्र के बाहर छह साल की बच्ची की ट्रक से कुचल कर मौत हो गई। गुस्साए ग्रामीणों ने करीब तीन घंटे तक रोड जमा रखा। ग्रामीण प्राथमिक स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र के स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे। सूचना पर एसडीएम जलालाबाद सुरेंद्र सिंह, बीईओ अनुज कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। कार्रवाई का भरोसा देकर जाम खुलवाया। बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। ट्रक को पुलिस ने मय चालक हिरासत में ले लिया है।

अल्हागंज थाने के गांव ठिंगरी निवासी ओम प्रकाश कश्यप की छह साल की बेटी कोमल गांव के ही प्राथमिक स्कूल में चलने वाले आंगनबाड़ी केंद्र में छात्रा थी। शुक्रवार सुबह कोमल आंगनबाड़ी केंद्र गई थी। करीब 12 बजे वहां से घर पर खाना खाने के लिए जा रही थी। इसी दौरान सड़क पार करते समय जलालाबाद की ओर से आ रहे ट्रक ने कोमल को कुचल दिया। उसकी मौके पर मौत हो गई। हादसे के बाद ट्रक चालक मय ट्रक के सीधा थाने पहुंच गया। यहां पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। इधर, हादसे से गुस्साए गांव के लोगों ने जलालाबाद रोड पर जाम लगा दिया। करीब तीन घंटे तक रोड पर यातायात ठप रहा। ओम प्रकाश का कहना है कि उसकी बेटी प्राथमिक स्कूल की छात्रा थी। स्कूल में मिड डे मील नहीं बनता है। इस वजह से उसकी बेटी घर आ रही थी। आरोप लगाया कि स्कूल का स्टाफ छोटे बच्चों का ध्यान भी नहीं रखता। बेटी की मौत के बाद स्कूल स्टाफ ने उपस्थिति पंजिका आदि में छेड़छाड़ कर कोमल का नाम हटा दिया है। गांव के लोगों का आरोप है कि प्रधानाध्यापक जितेंद्र सिंह कभी कभार ही स्कूल आते हैं। यहां सहायक अध्यापक ही जिम्मेदारी संभालते हैं। गांव वाले स्कूल के सामने स्पीड ब्रेकर बनवाने की भी मांग कर रहे थे। एसडीएम ने उनको कार्रवाई का आश्वासन दिया। एसडीएम सुरेंद्र सिंह ने बताया कि प्रधानाध्यापक पर ठिंगरी के साथ भुंड प्राथमिक विद्यालय का भी चार्ज है। उनको दोनों विद्यालय देखने होते हैं।

जांच में पता लगा है कि बच्ची प्राथमिक स्कूल की छात्रा नहीं थी। यहां चलने वाले आंगनबाड़ी केंद्र में आती थी। फिर भी मामले में जांच कराई जा रही है। जांच के बाद जो भी जरूरी होगा कार्रवाई की जाएगी।