Monday , May 20 2019

ऋषभ पंत के बचाव में सुनील शेट्टी ने कहा, ऋषभ आप प्रतिशाली हैं, अपने कार्य पर ध्यान दो

पीटर हैंड्सकोंब (117)  उस्मान ख्वाजा (91) के बीच तीसरे विकेट के लिए हुई 192 रनों की रिकॉर्ड गठबंधन के बाद एश्टन टर्नर (नाबाद 84) की तूफानी पारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को यहां खेले गए चौथे वनडे मैच में हिंदुस्तान को चार विकेट से हरा दिया इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने पांच मैचों की सीरीज में 2-2 से बराबरी कर ली है

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट पर 358 रनों का विशाल स्कोर बनाया, जिसे आस्ट्रेलिया ने 47.5 ओवर में छह विकेट खोकर हासिल कर लिया इस मैच में धोनी की स्थान पर खिलाए गए ऋषभ पंत के लचर प्रदर्शन की आलोचना की जा रही है दर्शकों ने एक वर्ग ने तो स्टेडियम पर ही ‘धोनी-धोनी’ के नारे लगाए ट्रोलर्स को एक्टर सुनील शेट्टी ने करारा जवाब दिया है

शेट्टी ने एक ट्वीट में पंत का बचाव करते हुए लिखा, “पंत अभी केवल 21 वर्ष के हैं  तीनों फॉर्मेट में हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व करते हैं आत्मनिरीक्षण करें  देखें कि हम इस आयु में क्या रहे थे उसे एक मौका दें ऋषभ आप प्रतिशाली हैं, अपने कार्य पर ध्यान दो!

कई यूजर्स ने किया ट्वीट का समर्थन
सुनील शेट्टी के ट्वीट का समर्थन कई यूजर्स ने किया एक्टर राहुल देव ने लिखा, “आमीन ”  एक अन्य उपभोक्ता दलपत राज पुरोहित ने कहा, “पंत तुम शानदार प्रतिशाली खिलाड़ी हो हमें तुम पर गर्व है ” एक अन्य उपभोक्ता विनय ने लिखा, “धोनी भी जब नया था मिस्टेक की हैं जब तक गेम का अनुभव नहीं आता, कोई नहीं सीख सकता धोनी लीजेंड हैं, कोई उनकी स्थान नहीं ले सकता लेकिन हमें धोनी के रिटायरमेंट के बाद अच्छे विकेट कीपर की आवश्यकता होगी ”

इससे पहले,  धवन ने टीम के अपने जूनियर साथी ऋषभ पंत के प्रति सहानुभूति जताई थी जिन्होंने विकेट के पीछे बहुत ज्यादा बेकार प्रदर्शन किया अंतिम दो मैचों के लिए महेंद्र सिंह धोनी की स्थान टीम में शामिल पंत ने विकेट के पीछे लचर प्रदर्शन किया  स्टंपिंग का सरल मौका भी गंवा दिया उन्होंने कहा, “किसी भी अन्य युवा खिलाड़ी की तरह आपको उसे भी समय देना होगा. मेरे कहने का मतलब है कि धोनी भाई ने इतने सालों में सारे मैच खेले हैं. आप उनसे तुलना नहीं कर सकते ” धवन ने कहा, “हां, अगर वह स्टंपिंग कर देता तो शायद मैच बदल सकता था लेकिन यह तेजी से हमारे हाथों से फिसल गया  इसमें ओस ने अहम किरदार निभाई यह ऐसा ही था “