Tuesday , March 19 2019
Breaking News

अखिलेश यादव और मायावती ने संयुक्त प्रेस वार्ता की…

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच गठबंधन की आधिकारिक घोषणा के लिए अखिलेश यादव और मायावती ने संयुक्त प्रेस वार्ता की। गठबंधन में उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से बसपा 38 और सपा 38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

मायावती ने कहा कि इस संयुक्त संवाददाता सम्मेलन से ‘गुरु-चेले’, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की नींद उड़ जाएगी। भाजपा ने इस गठबंधन को तोड़ने के लिए सपा प्रमुख अखिलेश यादव का नाम जानबूझकर खनन मामले से जोड़ा है। भाजपा को मालूम होना चाहिए कि उनकी इस घिनौनी हरकत से सपा-बसपा गठबंधन को और मजबूती मिलेगी।

गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं किये जाने के बारे में बसपा सुप्रीमो ने कहा कि उनके शासन के दौरान गरीबी, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार में वृद्धि हुई है। भाजपा और कांग्रेस दोनों का शासन एक जैसा है। अमेठी और रायबरेली सीटें कांग्रेस पार्टी के लिए छोड़ दी हैं।