Tuesday , March 19 2019
Breaking News

इस कारण लगातार बेकार होती जा रही दिल्ली की हवा

दिल्ली में हवा की गति कम होने के कारण वायु गुणवत्ता लगातार बेकार होती जा रही है, जिसके चलते शुक्रवार को श्रेणी में आ गई हालांकि, अधिकारियों ने आसार जताई कि आगामी कुछ दिनों में बारिश होने के कारण प्रदूषण स्तर कम हो सकता है केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक, शहर का समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 402 रहा जो ‘गंभीर’ श्रेणी में आता है वहीं केंद्र की (सफर) ने बोला कि दिल्ली की समग्र वायु गुणवत्ता ‘बहुत गंभीर’ श्रेणी में बनी रहेगी

गौरतलब है कि 100 से 200 के बीच एक्यूआई को ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ जबकि 401 से 500 के बीच को ‘गंभीर’ माना जाता है वायु की गुणवत्ता ‘गंभीर’  13 में ‘बहुत खराब’ दर्ज की गई इसमें बताया गया है कि राष्ट्रीय राजधानी एरिया (एनसीआर) के गाजियाबाद, फरीदाबाद  नोएडा की की वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ दर्ज की गई

सीपीसीबी के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में हवा में अतिसूक्ष्म कणों-पीएम 2.5 का स्तर 278 दर्ज किया गया जबकि पीएम 10 का स्तर 430 रहा केंद्र संचालित (सफर) ने बताया कि अगले दो दिनों में बारिश होने की आसार है  इससे वायु की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है दिल्ली की वायु गुणवत्ता बुधवार  गुरुवार को हवा की गति तेज होने के कारण को ‘खराब’ दर्ज की गई थी हालांकि शुक्रवार प्रातः काल यह ‘बहुत खराब’ श्रेणी में आ गई  बाद में ‘गंभीर’ श्रेणी में आ गई