Monday , January 21 2019
Breaking News

सिंधु ने ओकुहारा को सातवीं बार हराया 

भारतीय शटलर पीवी सिंधु ने पिछले वर्ष की गलती को सुधारते हुए का खिताब जीत लिया है उन्होंने रविवार (16 दिसंबर) को खेले गए फाइनल मुकाबले में अपने से ऊंची रैंकिंग वाली को हराया पीवी सिंधु पिछले वर्ष इस टूर्नामेंट के फाइनल में पराजय गई थीं  इससे पहले किसी भी इंडियन खिलाड़ी ने किसी भी वर्ग में इस टूर्नामेंट का खिताब नहीं जीता थाRelated image

साल के अंत में होने वाले इस टूर्नामेंट का नाम पहले बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड सुपर सीरीज फाइनल्स था इस वर्ष से इसका नाम बदलकर बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स कर दिया गया हैटूर्नामेंट के हर वर्ग में 8-8 खिलाड़ी भाग लेते हैं इन खिलाड़ियों को दो ग्रुप में बांटा जाता है पीवी सिंधु ने ग्रुप स्टेज के तीनों मैच जीतकर सेमीफाइनल में स्थान बनाई थी उन्होंने ग्रुप स्टेज में ताइवान की ताई जू यिंग, जापान की अकाने यामागुची  अमेरिका की बीवेन झेंग को हराया था इसके बाद सेमीफाइनल में थाईलैंड की रतचानोक इंतानोन को हराया था

loading...

का रविवार को खेले गए महिला सिंगल्स के फाइनल में जापान की नोजोमी ओकुहारा के बीच कड़ी मुक़ाबला हुई हालांकि, इस कड़े मुकाबले में पीवी सिंधु ने बेहतर प्रदर्शन किया  इसे लगातार दो गेम में समाप्त कर दिया सिंधु ने वर्ल्ड नंबर-5 ओकुहारा को एक घंटे  दो मिनट तक चले मैच में 21-19, 21-17 से हराकर खिताबी जीत हासिल की  पीवी सिंधु पिछले वर्ष ओकुहारा से विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पराजय गई थीं

पीवी सिंधु  नोजोमी ओकुहारा के बीच कड़ी मुक़ाबला देखी गई ओकुहारा इंडियन खिलाड़ी की चिर प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ियों में से एक हैं ऐसे में दोनों ही खिलाड़ी एक-दूसरे के खेल से भलीभांति परिचित थीं हालांकि, सिंधु ने बाजी मारते हुए खिताब अपने नाम कर लिया सिंधु  ओकुहारा के बीच खेला गया यह 13वां मैच है इससे पहले 12 मैचों में दोनों 6-6 मैच जीतकर बराबरी पर थे इस टूर्नामेंट के बाद सिंधु ने जापानी खिलाड़ी पर 7-6 की बढ़त बना ली है  इससे पहले हिंदुस्तान के समीर वर्मा शनिवार को पुरुष सिंगल्स के सेमीफाइनल में पराजय गए थे

Loading...
loading...