Wednesday , December 19 2018
Loading...

तिब्बतियों पर अपने दलाई लामा को थोपने का कोशिश कर रहा है चीन

हिंदुस्तान का पड़ोसी राष्ट्र चाइना भले ही अपने आप को कितना ही आधुनिक  धर्म निरपेक्ष राष्ट्र बताता फिरता हो लेकिन उसकी वास्तविक सच अब धीरे-धीरे पूरी संसार के सामने आने लगी है पिछले कुछ दिनों से इस राष्ट्र से लगातार ऐसी रिपोर्ट्स आ रही है जिसमे पता चलता है कि चाइना की गवर्नमेंट अपने राष्ट्र में अल्पसंख्यकों  खासकर के उइगर मुस्लिमों के साथ कितना भेदभाव करती हैImage result for तिब्बतियों पर अपने दलाई लामा को थोपने का कोशिश कर रहा है चीन

उइगर मुस्लिमों के मानवाधिकारों का उलंघन करने के बाद अब चाइना की गवर्नमेंट तिब्बत के लोगों पर अपने दलाई लामा को थोपने का कोशिश कर रही है इसका मतलब यह हुआ कि चाइना अब अगले दलाई लामा का फैसला खुद करना चाहता है  इसके लिए तिब्बतियों पर दबाव भी डाल रहा है लेकिन अब इस मामले में जल्द ही अमेरिका भी उतर सकता है क्योंकि अमेरिका ने हाल ही में इस मामले के विरोध में बयान देते हुए बोला है कि चाइना की गवर्नमेंट तिब्बत के लोगों पर अपने दलाई लामा को थोपने की प्रयास कर रही है जबकि शीर्ष बौद्ध नेता के उत्तराधिकारी का चुनाव केवल  केवल धार्मिक परम्पराओं के मुताबिक होना चाहिए  गवर्नमेंट को इन मामलों में दखल नहीं देना चाहिए

Loading...

आपको बता दें कि वर्तमान दलाई लामा की आयु अभी 83 साल है  जब वह केवल दो साल के थे तब उन्हें तिबत के शीर्ष लामाओं ने दलाई लामा घोषित किया था वे फिल्हालहिंदुस्तान में रह रहे हैं

Loading...