Monday , December 17 2018
Loading...

स्टेज पर एक दूसरे का हाथ थामें निक और प्रियंका

दिल्ली के ताज महल पैलेस होटल में प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस अपना रिसेप्शन शुरू हो चुका है। इस दौरान प्रियंका अपने पति निक की बाहें थामें स्टेज पर पहुंची। स्टेज पर पहुंचते ही दोनों ने अपनी फैमिली के साथ फोटो खिंचवाई। इसके बाद प्रियंका और निक ने मेहमानों का हाथ हिलाकर स्वागत किया। इस रिसेप्शन में राजनीति जगत से लेकर एंटरटेनमेंट तक और कई बड़ी नामी हस्तियों के शामिल होने के कयास लगाए जा रहे है। मंगलवार शाम प्रियंका और निक शादी की फोटोज सामने आने के बाद उनके रिसेप्शन का कार्ड भी सामने आ गया है। माना जा रहा है कि प्रियंका की शादी की तरह उनका रिसेप्शन भी बेहद खास होने वाला है।

रिसेप्शन में पहुंच सकते हैं पीएम मोदी

Loading...

प्रियंका और निक के रिसेप्शन में पीएम मोदी के भी पहुंचने की उम्मीद लगाई जा रही है। बता दें कि अपनी शादी के पहले प्रियंका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी अपने रिसेप्शन का इन्वीटेशन दिया था। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस रिसेप्शन के बाद प्रियंका मुंबई में भी एक ग्रैंड रिसेप्शन देंने वाली हैं जिसमें हॉलीवुड की तमाम बडी हस्तियां शामिल हो सकती हैं।।

शादी की तस्वीरें भी आई सामने

प्रियंका-निक के शादी के तस्‍वीरें शुक्रवार देर शाम सामने आ गई। बता दें कि ‘प्रियंका’ और निक की जोड़ी ने 1 और 2 दिसंबर को जोधपुर के उम्‍मेद भवन में क्रिश्‍चन और हिंदू रीति-रिवाज से शादी की थी। क्रिश्चियन रीति-रिवाज से हुई शादी के दौरान प्रियंका और निक, रॉल्फ लॉरेन के डिजाइनर आउटलुक में नजर आ रहे हैं। वहीं हिन्दू रीति से हुई शादी के दौरान प्रियंका और निक सब्यसाची के डिजाइनर आउटफिट में नजर आए। इस दौरान प्रियंका ने रेड लहंगा जबकि, निक ने सिल्क शेरवानी पहनी थी।

अनकट डायमंड से बनी प्रियंका की ज्‍वैलरी

प्रियंका भी अपनी शादी में दीपिका पादुकोण की तरह फैशन डिजाइनर सब्‍यसाची के लहंगे में ही नजर आई। खबरों के मुताबिक सब्‍यसाची मुखर्जी ने प्रियंका चोपड़ा के इस लहंगे के अपने सोशल साइट इंस्‍टाग्राम पर कई जानकारी शेयर की। शादी में पहनी गई प्रियंका की ज्‍वैलरी भी अनकट डायमंड, पन्ना और जपानी मोतियों से 22 कैरेट गोल्‍ड में बने हैं।

110 कारीगरों ने तैयार किया लहंगा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस लहंगे को कोलकाता के 110 कारीगरों ने मिलकर तैयार किया है, जिसमें पूरे 3,720 घंटों का समय लगा है। इसके साथ- साथ यह लहंगा पूरी तरह हाथ की गई कारीगीरी से बना है।

Loading...