Monday , March 18 2019

आँखों की इस बिमारी को दूर करता है करेला

ये तो आप जानते ही हैं रतौंधी आंखों की एक बीमारी है जिससे रातों को दिखना बंद हो जाता है, जिन्हें ये बीमारी होती हैं उनके लिए ये बड़ी मुसीबत होती है इस रोग के रोगी को दिन में तो अच्छी तरह दिखाई देता है, लेकिन रात के वक्त इन्हें क्कुह दिखाई नहीं देता आपको बता दें, रोगी की आँखों की जाँच के दौरान पता चलता है कि आँखों का कॉर्निया सूख-सा गया है  आई बॉल धुँधला और मटमैला-सा दिखाई देता है इसमें उपतारा (आधरिस) महीन छिद्रों से युक्त दिखता है तथा कॉर्निया के पीछे तिकोनी सी आकृति नजर आती है इसी के साथ आँखों से सफेद रंग का स्त्राव भी होने लगता हैImage result for आँखों की इस बिमारी को दूर करता है करेला

अगर ऐसी बीमारी आप में से भी किसी को है तो इस बिमारी से निपटने के लिए आपको प्रतिदिन करेला खान चाहिए करेले के रस में पिसी काली मिर्च अच्छी तरह मिलाएं यह लेप आंखों के बाहरी हिस्से पर लगाने से रतौंधी की बीमारी दूर होती है बता दें, इसमें विटामिन ए अधिक होने के कारण यह आंखों की रोशनी के लिए बहुत अच्छा होता है

जिन लोगों को रतौंधी की बीमारी होती है उन्हें इसका प्रयोग करना चाहिए इसके पत्तों के रस का लेप थोड़ी सी काली मिर्च मिलाकर लगाना चाहिए रतौंधियों में शाम होते ही आकस्मित दिखना बंद हो जाता है  जैसे ही प्रातः काल सूरज निकलता है आंखें बिल्कुल सामान्य हो जाती है रतौंधी में करेले का प्रयोग बहुत ज्यादा लाभकारी होता है करेले में विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पायी जाती है जिस कारण इसका प्रयोग बॉडी में मॉस्चर बनाये रखता है