Monday , December 17 2018
Loading...

उत्तर कोरिया ने तीन अमेरिकी बंदियों को किया था रिहा

उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को बोला कि वह गैरकानूनी प्रवेश को लेकर हिरासत में लिए गए एक अमेरिकी नागरिक को स्वदेश वापस भेजेगा. इसके साथ ही उसने एक नव-विकसित, लेकिन अनिर्दिष्ट ‘अत्याधुनिक हथियार’ का परीक्षण करने की घोषणा भी की. Image result for उत्तर कोरिया

अमेरिकी नागरिक को स्वदेश वापस भेजने  साथ ही नए हथियार के परीक्षण की उत्तर कोरिया की घोषणाओं को वाशिंगटन के तुष्टीकरण तथा साथ ही उसे चिढ़ाने पर केंद्रित माना जा रहा है. उसकी एक घोषणा से लगता है कि वह बातचीत को कायम रखना चाहता है, वहीं उसकी दूसरी घोषणा को थमी हुई परमाणु कूटनीति पर उसकी निराशा माना जा रहा है.

Loading...

उत्तर कोरिया विगत में अमेरिकी नागरिकों की हिरासत अवधि बढ़ाता रहा है. उनकी रिहाई के लिए अमेरिका के उच्चाधिकारियों की प्योंगयांग यात्राओं के बाद उसके रवैये में कुछ परिवर्तन हुआ है. उत्तर कोरिया ने अमेरिकी विश्वविद्यालय के विद्यार्थी ओट्टो वार्मबियर को 17 महीने तक हिरासत में रखने के बाद कोमा की हालत में पिछले वर्ष रिहा किया था, लेकिन रिहाई के कुछ दिन बाद ही उसकी मौत हो गई थी.

लॉरेंस को 16 अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था 
कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने शुक्रवार को बोला कि अमेरिकी नागरिक ब्रूस बिरोन लॉरेंस को चाइना से उत्तर कोरिया में गैरकानूनी प्रवेश के आरोप में 16 अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था. इसने बोला कि उसने जांचकर्ताओं को बताया कि वह अमेरिका की खुफिया एजेंसी सीआईए के आदेश पर उत्तर कोरिया में घुसा था.

यह स्पष्ट नहीं है कि उत्तर कोरिया द्वारा बताई गई आदमी के नाम की स्पेलिंग सही है या नहीं. विगत में वह नामों की गलत स्पेलिंग बताता रहा है. केसीएनए ने बोला कि उत्तर कोरिया ने लॉरेंस को रिहा करने का निर्णय किया है, लेकिन यह नहीं बताया कि उसे कब  क्यों रिहा किया जाएगा.

उत्तर कोरिया ने अपने नेता किम जोंग उन की 12 जून को सिंगापुर में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से होने वाली मुलाकात से पहले मई में सद्भावना के तौर पर तीन अमेरिकी बंदियों को रिहा किया था. ये तीनों लोग अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपिओ के साथ एक विमान से स्वदेश पहुंचे थे. शिखर सम्मेलन के कुछ सप्ताह बाद उत्तर कोरिया ने 1950-53 के कोरिया युद्ध में मारे गए दर्जनों परिकल्पित अमेरिकी सैनिकों के अवशेष वापस किए थे.

किम ने किया अनिर्दिष्ट ‘नव-विकसित अत्याधुनिक रणनीतिक हथियार’ का पास परीक्षण
केसीएनए ने इससे पहले बोला कि किम ने एक अनिर्दिष्ट ‘नव-विकसित अत्याधुनिक रणनीतिक हथियार’ का पास परीक्षण किया हालांकि इसने इस बारे में उल्लेख नहीं किया कि यह कौन सा हथियार था. यह किसी परमाणु हथियार या अमेरिका को निशाना बना सकने की क्षमता वाली लंबी दूरी की किसी मिसाइल का परीक्षण नहीं लगता.

विशेषज्ञों का कहना है कि हथियार परीक्षण अमेरिका नीत अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों तथा दक्षिण कोरिया  अमेरिका के बीच जारी छोटे स्तर के सैन्य अभ्यासों पर संभवत: उत्तर कोरिया की नाराजगी की अभिव्यक्ति है.

Loading...