Monday , December 17 2018
Loading...

देश के पहले मल्टी मॉडल टर्मिनल का आज उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

वाराणसी के रामनगर में बने  देश के पहले मल्टी मॉडल टर्मिनल के उद्घाटन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जेटी पर वॉक करने के साथ यहां 40 मिनट तक रुकेंगे। इस दौरान वह निर्माणाधीन प्रशासनिक भवन को भी देख सकते हैं। पीएम का हेलीकॉप्टर भी जेटी पर ही उतरेगा।
Related image

वाराणसी का मल्टी मॉडल टर्मिनल नदियों पर बना पहला ऐसा टर्मिनल है, जो कंटेनर कार्गो हैंडलिंग में सक्षम होगा। प्रधानमंत्री के आगमन के दौरान सुरक्षा के लिए तैनात किए जा रहे अलग-अलग खूबियों वाले पानी के सात अन्य जहाज भी आकर्षण का केंद्र होंगे। इनमें दो ड्रेजर, दो सर्वेयर और कार्गो व्हिसल प्रमुख हैं। जेटी के सामने यह गंगा में चक्रमण करेंगे। सभी जहाज टर्मिनल पर पहुंच चुके हैं।

इस दौरान प्रधानमंत्री के सामने जल परिवहन के लिए किए जा रहे प्रयास, संभावनाएं, जरूरतों आदि पर प्रजेंटेशन भी दिया जाएगा। इसके बाद रिमोट कंट्रोल से वह विशेष क्रेन को स्टार्ट करेंगे। हल्दिया से पेप्सिको के 16 कंटेनर लेकर वाराणसी पहुंचे रविंद्र नाथ टैगोर जलपोत से एक कंटेनर उठाकर जेटी पर रखा जाएगा

Loading...

। पीएम आगमन को लेकर इनलैंड वाटरवेज अथारिटी ऑफ इंडिया (आईडब्ल्यूएआई) ने तैयारी कर ली है। इस दौरान राजमार्ग और जल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आईडब्लूएआई चेयरमैन प्रवीर पांडेय मौजूद रहेंगे।

रामनगर बंदरगाह के रास्ते आम लोगों के लिए बंद

प्रधानमंत्री सोमवार को रामनगर में नवनिर्मित बंदरगाह का लोकार्पण करने आ रहे हैं। सुरक्षा के मद्देनजर बंदरगाह की ओर जाने वाले सभी रास्ते रविवार शाम आम लोगों के लिए बंद कर दिए। बंदरगाह के आसपास और सामने गंगा में नौकाओं की आवाजाही भी रोक दी गई है। पीएम यहां हेलीकॉप्टर से ही पहुंचेंगे और वापस जाएंगे। बावजूद इसके फ्लीट का रिहर्सल किया गया। जेटी पर हेलीकॉप्टर उतार कर एक और रिहर्सल किया गया।

पीएम के लिए बीएसएनएल ने हॉटलाइन की व्यवस्था की। टर्मिनल के ऑफिस को सेफ हाउस में तब्दील कर दिया गया है। इसके अलावा एक पंडाल बनाया गया है, जहां से पीएम जलपरिवहन और टर्मिनल की कार्यप्रणाली की वीडियो क्लिप व प्रेजेंटेंशन देखेंगे।

इनलैंड वाटरवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से स्वागत द्वार भी बनाए गए हैं। उधर, टर्मिनल के अंदर विद्युत केंद्र तैयार नहीं हो सका है। बिजली विभाग के कर्मचारी ट्रांसफार्मर लगाने के लिए माथापच्ची करते रहे।

टर्मिनल से कैसे बाहर जाएंगे कंटेनर

रवींद्र नाथ टैगोर जलपोत से आए कंटेनर टर्मिनल से बाहर कैसे निकलेंगे, यह एक बड़ा सवाल है। कारण, अभी तक मुख्य मार्ग का निर्माण पूरा नहीं हो सका है। प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर बनाया गया संपर्क मार्ग कंटेनर ले जाने वाले ट्रकों के लिए उपयुक्त नहीं है। आशंका है कि इस कारण कुछ दिनाें तक कंटेनर टर्मिनल पर ही पड़े रहेंगे। इन्हें ले जाने में समय लग सकता है। हालांकि जल परिवहन के अधिकारियों का दावा है कि चार-पांच दिन में टर्मिनल से कंटेनर को रवाना कर दिया जाएगा। कंटेनरों को दिल्ली और प्रयागराज भेजा जाना है।

सामान भेजने के लिए कई कंपनियां आईं आगे

रवींद्र नाथ टैगोर जलपोत से माल कोलकाता भेजने के लिए कई कंपनियां आगे आई हैं। इनमें खाद के साथ-साथ डाबर सहित कई मल्टीनेशनल कंपनियों ने इच्छा जाहिर की है। वहीं पेप्सिको ने एक बार फिर माल भेजने का प्रस्ताव रखा है।

बाबतपुर से वाजिदपुर तक होगा रोड शो

रामनगर स्थित मल्टी मॉडल टर्मिनल राष्ट्र को समर्पित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हेलीकॉप्टर से बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे। यहां से पीएम मोदी काफिले के साथ लोकार्पित होने वाली बाबतपुर फोरलेन को देखते हुए वाजिदपुर गांव में सभा स्थल पहुंचेंगे। बाबतपुर से वाजिदपुर के बीच रोड शो में प्रधानमंत्री जनता का अभिवादन करेंगे। इस दौरान वहां मौजूद लोग पुष्प वर्षा कर उनका स्वागत करेंगे।

रोड शो की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। जानकारी के मुताबिक करीब साढे़ तीन बजे प्रधानमंत्री का काफिला बाबतपुर से चलेगा और धीमी रफ्तार से आगे बढ़ेगा। सूत्रों की मानें तो पीएम इस दौरान गाड़ी से उतर कर कुछ दूर तक सड़क पर चहलकदमी भी कर सकते हैं।

Loading...