Saturday , November 17 2018
Loading...

 न्यायालय ने 15 नामों की सिफारिश जज के तौर पर किया नियुक्ति

सुप्रीम न्यायालय के कॉलेजियम ने इलाहाबाद न्यायालय के लिए 13  उत्तराखंड न्यायालय के लिए तीन नए जजों की नियुक्ति की सिफारिश गवर्नमेंट को भेजी है. इसके अतिरिक्तओडिशा न्यायालय में भी 6 नए जजों को नामित किया गया है, जहां अगस्त के अंत से न्यायालय का कामकाज वकीलों की हड़ताल के कारण प्रभावित चल रहा है.Image result for  न्यायालय ने 15 नामों की सिफारिश जज के तौर पर किया नियुक्ति

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम में जस्टिस मदन बी लोकुर  कूरियन जोसेफ भी शामिल हैं. कॉलेजियम ने उत्तराखंड न्यायालय में जज बनने के लिए रविंद्र मैठाणी, नारायण सिंह धानिक  रमेश चंद्र खुबे का नाम गवर्नमेंट को दिया है. उत्तराखंड निवासी मैठाणी इस समय सुप्रीम न्यायालय के सेक्रेटरी जनरल भी हैं.

31 अक्तूबर को शीर्ष न्यायालय की वेबसाइट पर अपलोड किए गए प्रस्ताव के अनुसार, इलाहाबाद न्यायालय ने 15 नामों की सिफारिश जज के तौर पर नियुक्ति के लिए की थी, लेकिन शीर्ष न्यायालय के कॉलेजियम ने इनमें से दो नामों को योग्यता के मानक पर खरा नहीं पाते हुए महज 13 नामों को ही न्यायालय का जज बनाए जाने के लिए स्वीकृत किया है.अन्य दो नामों को न्यायालय कॉलेजियम को वापस भेज दिया गया है.
कॉलेजियम ने ओडिशा न्यायालय की कॉलेजियम की तरफ से भेजे गए 8 नामों में से पहले 3 को खारिज करते हुए 5 के नाम की सिफारिश आगे भेजने का फैसला लिया था, लेकिन बाद में इनमें से एक के नाम पर पुनर्विचार का फैसला लेते हुए अन्य दो के नाम वापस न्यायालय कॉलेजियम को भेज दिए. अन्य 6 जजों के नाम गवर्नमेंट को भेज दिए गए हैं. प्रस्ताव के मुताबिक, रोके गए 3 नामों में से एक अन्य पर कुछ समय बाद दोबारा विचार किया जाएगा. बाकी दोनों के नाम को पुनर्विचार के लिए ओडिशा हाइकोर्ट को वापस भेज दिया गया है.
Loading...