Saturday , November 17 2018
Loading...

सार्वजनिक वाहनों में ट्रैकिंग डिवाइस व इमरजेंसी बटन को लगाना जरूरी

हिंदुस्तान गवर्नमेंट  सड़क परिवहन विभाग द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार अब सार्वजनिक वाहनों में ट्रेकिंग डिवाइस जरूरी रूप से लगाना महत्वपूर्ण हो गया है.जानकारी के अनुसार बता दें कि 1 जनवरी 2019 से बड़े  सार्वजनिक वाहनों में ट्रैकिंग डिवाइस  इमरजेंसी बटन को लगाना जरूरी कर दिया गया है. बता दें कि यात्रियों  खासकर स्त्रियों की सुरक्षा को देखते हुए ये निर्णय लिया गया है.

Image result for सार्वजनिक वाहनों में ट्रैकिंग डिवाइस व इमरजेंसी बटन को लगाना जरूरी

बताया जा रहा है कि सड़क परिवहन  राजमार्ग मंत्रालय ने संयुक्त रूप से बोला कि ये ​अनिवार्यता आॅटो रिक्शा  ई-रिक्शाको छोड़कर सभी वाहनों में लागू की गई है. यहां बता दें कि कुछ समय पहले ही परिवहन विभाग द्वारा स्कूली बसों में भी इसी तरह के डिवाइस लगाने के आदेश दिए गए थे. जिसके बाद इसे जल्द ही लागू कर दिया गया था. इसके अतिरिक्तबता दें कि जनवरी 2019 या उसके बाद उन्हीं नए सार्वजनिक वाहनों का पंजीकरण होगा जिनमें इमरजेंसी बटन के साथ व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग उपकरण लगे होंगे.

Loading...

गौरतलब है कि परिवहन विभाग द्वारा जारी किए गए इस नए आदेश के बाद घटना दुर्घटनाओं में भी कमी आएगी  इस विषय में अधिसूचना जारी कर दी गई है. मंत्रालय ने बोला है कि संबंधित राज्य या वीएलटी निर्माता या राज्य गवर्नमेंट की तरफ से अधिकृत एजेंसी कमांड  कंट्रोल सेंटरों की स्थापना करेगी. यह केंद्र राज्यों के इमरजेंसी रिस्पॉन्स सेंटर, परिवहन विभाग या आरटीओ दफ्तरों, सड़क परिवहन  राजमार्ग मंत्रालय, अपनी संबंधित एजेंसियों, उपकरण निर्माताओं, उनके अधिकृत डीलरों, टेस्टिंग एजेंसियों  परमिट धारकों जैसे हितधारकों को सूचनाएं उपलब्ध कराएंगे.

 

Loading...