Friday , February 22 2019
Breaking News

जानिए इसलिए शादी वाले पार्टनर के साथ रात बिताना चाहते हैं आजकल के युवा

मुझे शादी नहीं करनी’ हम बचपन से यही एक बात कहते कहते बड़े हो जाते हैं, और फिर एक दिन सूरज बड़जात्या की फिल्म की तरह हमारी जिंदगी में भी आ जाती है एक प्रेम कहानी या शादी. फिर तैयारियां, शॉपिंग, संगीत, चकाचौंध, गाजे बाजे, बारात, और लाखों का बिल समेटते बेचारे मां बाप. हर किसी की जिंदगी का बहुत बड़ा ईवेंट होता है शादी, लेकिन ये कहना भी गलत नहीं कि हर किसी की जिंदगी में इससे बड़ा मेलोड्रामा भी कोई नहीं. शादी जिंदगी बदल देती है, किसी की पॉजिटिवली तो किसी की निगेटिवली भी. शादी को लेकर हर किसी के अलग-अलग मत हो सकते हैं, लेकिन ये आश्चर्य करने वाली बात है कि आज का युवा सच में शादी नहीं करना चाहता. जानते हैं उन्हीं की दी हुई कुछ अजीब वजहें-

1. दिल में कोई और तो जिंदगी में कोई और कैसे?- प्यार में नाकाम रहे लोग अक्सर शादी नहीं करना चाहते. दिल में पहले से ही कोई और है तो फिर लाइफ पार्टनर को दिल में एडजस्ट करना काफी मुश्किल काम है. यही एडजस्टमेंट जीवन भर करने से लगता है डर

6. घर जल्दी जाना है… शादी न हो तो कितने भी बजे तक घर से बाहर रह सकते हैं. शादी के बाद घर सिर्फ इसलिए जल्दी जाना कि घर में पति या पत्नी, भूखे होंगे..खाने पर इंतजार कर रहे होंगे…उफ्फ!5. बच्चे पैदा करने के लिए शादी…क्यों? शादी होते ही मां-बाप को दादा दादी बनने का लाइसेंस मिल जाता है. हर आशीर्वाद में वंश बढ़ाने और जल्दी पोते का मुंह दिखाने की बात कही जाती है. अरे, बच्चे चाहिए तो गोद ले लो… शादी के झंझट में क्यों डालते हो?4. त्योहार मनाए नहीं जाते, बल्कि…शादी से पहले त्योहार मनाने का उत्साह निराला होता है, होली का हुल्लड़, दीवाली की मस्ती. पर शादी के बाद ये त्योहार जिम्मेदारी निभाने और दुगने, तिगुने चौगुने बढ़ चुके रिश्तेदारों को खुश करने का दिन बन जाते हैं.  3. शादी से पहले डेट, शादी के बाद… गर्लफ्रेंड के साथ बाहर जाते हैं तो वो डेट होती है. पर पत्नी के साथ बाहर जाना अलग बात है. ज्यादातर चुप रहना, दूसरे कंवारे जोड़ों की तरह इंजॉय नहीं कर पाना, डिस्को में क्या जमकर डांस कर सकते हैं?2. शादी पर जबरदस्ती के खर्चे– जब पहली बार हमें सैलरी मिलती है तो हर कोई यही समझाता है कि पैसा कैसे बचाना है, पैसे को समझदारी से कैसे खर्चना है. लेकिन शादी के वक्त लोग इस पर ज़रा भी ध्यान नहीं देते. अपनी मेहनत का पैसा पानी की तरह बहाते हैं. क्या इसी के लिए पैसा बचाते हैं